Breaking News
.

डीईओ सतीश पांडे ने शिक्षकों और छात्रों को बताए ऑनलाइन में पढ़ने-पढ़ाने के टिप्स …

कोरबा। डार्विन के योग्यतम की उत्तरजीविता के सिद्धांत के आधार पर हमें हमेशा अपनी योग्यता को अपडेट करते रहना चाहिए. राकेश टंडन व्याख्याता शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उतरदा शिक्षा को आकर्षक एवं प्रभावशाली बनाए जाने के लिए शासकीय शिक्षकों को सतीश पांडे जिला शिक्षा अधिकारी जिला कोरबा के मार्गदर्शन में स्कूल शिक्षा विभाग जिला कोरबा के द्वारा अत्याधुनिक तकनीकी से हम 21वीं सदी के विद्यार्थियों को किस तरह से अध्यापन कराएं इसके लिए प्रशिक्षण दे रहे हैं।

यह आभासी प्रशिक्षण 6 मई 2021 से प्रारंभ होकर लगातार चल रही है इसमें शिक्षकों को प्रभावशाली शिक्षण वीडियो बनाने तथा प्रभावशाली एवं आकर्षक पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन बनाने के लिए सिखाया जाता है. इसमें बताया जाता है कि किस तरह से हम अपने विद्यार्थियों को बहुत ही आसान तरीका से समझा सके तथा उन्हें विभिन्न शिक्षण बिंदुओं को वीडियो के माध्यम से किस तरह से बता सके. श्वसन तंत्र की घटना को यदि बच्चों को बताएं तो हम सांस लेने तथा साथ छोड़ने की वीडियो को भी विद्यार्थियों को प्रदर्शित कर बता सकते हैं।

इसमें शिक्षकों को यह भी सिखाया जाता है कि हम ऑनलाइन मोड में किस तरह से विद्यार्थियों को के साथ अट्रैक्टिव लर्निंग कर सकें तथा स्कूलों में कंप्यूटर, प्रोजेक्टर या स्मार्ट क्लास के माध्यम से कैसे हम बच्चों को प्रभावशाली ढंग से शिक्षण दे सकें. इस प्रशिक्षण के कोआर्डिनेटर राकेश टंडन एवं गौरव शर्मा ने बताया से हम 21वीं सदी के विद्यार्थियों को स्कूलों में प्रभावशाली ढंग से पढ़ाना चाहे तो हम सभी शिक्षकों को अपडेट होने की आवश्यकता है और इसी अवधारणा पर हम और हमारी टीम जिला शिक्षा अधिकारी के मार्गदर्शन में जिले के सभी शिक्षकों को ट्रेनिंग दे रहे हैं।

अभी तक 18 कलस्टर में से 12 कलस्टर के लगभग अट्ठारह सौ शिक्षक शिक्षिकाओं को प्रभावशाली वीडियो मेकिंग, पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन सिस्को वेबैक्स एवं गूगल मीट से वीडियो तथा पावर पॉइंट शेयर करना, गणित के शिक्षकों के लिए मोबाइल को किस तरह से हम वाइट बोर्ड के रूप में उपयोग कर सकते हैं के बारे में बहुत ही सहज एवं सरल ढंग से जानकारी प्रदान की गई है।

इस ऑनलाइन प्रशिक्षण दल में रामनाथ बघेल, ममता सिंह राजपूत, निशा चंद्रा, मीनल मिश्रा, साधराम श्रीवास, प्रभा साव, तन्मय शर्मा, भावेश इशांत, ममता पाण्डे, प्रतिमा केवट, दिलकश मधुकर, सीमा पटेल, वसुंधरा कुर्रे, नंदिनी राजपूत जग जीवन कैवर्त प्रमुख भूमिका निभा रहे है।

कोरबा जिला के वीडियो मेकिंग एवं आईटी सेल के संरक्षक एम पी सिन्ह ने बताया कि कोरबा जिला के प्राथमिक शाला से लेकर हायर सेकेंडरी स्कूल तक के सभी शिक्षकों को वीडियो मेकिंग तथा प्रभावशाली ढंग से अध्ययन कैसे कराए इस संबंध में ऑनलाइन प्रशिक्षण दी जा रही है. शिक्षकों द्वारा बनाए गए वीडियो का वीडियो बैंक बनाया जाएगा जिसको विद्यार्थी अपने मोबाइल पर ऑफलाइन मोड में भी देख सकते हैं।

इस कार्यक्रम के संरक्षक फरहाना अली प्राचार्य शासकीय हाई स्कूल स्याहीमुडी ने बताया कि निश्चित ही इस तरह से के कार्य से शासकीय विद्यालयों में अध्ययन अध्यापन की गुणवत्ता में वृद्धि होगी।

कार्यक्रम के संरक्षक जी पी जाटवर प्राचार्य भिलाई बाजार में बताया कि 21 वीं सदी के विद्यार्थियों की बुद्धि लब्धि अधिक होती है इसलिए हम शिक्षकों को अपने शिक्षण कौशल में आधुनिक टेक्नोलाजी का उपयोग करना बहुत ही आवश्यक है।

error: Content is protected !!