Breaking News
.

अफीम सप्लाई करने वाले 3 आरोपियों को क्राईम ब्राँच ने राजस्थान से किया गिरफ्तार…

इंदौर। पुलिस उप महानिरीक्षक इन्दौर शहर श्री मनीष कपूरिया व्दारा शहर मे अवैध मादक पदार्थ की खरीदी ब्रिकी करने वाले तस्करों पर अंकुश लगाने तथा इनकी गतिविधियों में संलिप्त आरोपियों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये है । उक्त निर्देश के तारतम्य मे पुलिस अधीक्षक मुख्यालय इंदौर श्री अरविंद तिवारी के मार्गदर्शन मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राईम ब्रांच, इन्दौर श्री गुरुप्रसाद पाराशर द्वारा समस्त टीम प्रभारीयों को इस दिशा मे प्रभावी कार्यवाही हेतु समुचित निर्देश दिये गये थे।

क्राइम ब्रांच की टीम को इस कडी मे कार्यवाही के दौरान दिनांक 26.07.2021 को मुखबिर तंत्र के माध्यम से सूचना मिली थी कि एक व्यक्ती छोटी ग्वालटोली थाना क्षेत्र मे अवैध मादक पदार्थ अफीम को बेचने के लिये खडा हैं। सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम कार्यवाही करते हुये मुताबिक सूचना के मौके पर पहुंचे जहाँ एक व्यक्ती मौजूद मिला जिससे नाम पता पूछने पर अपना नाम हर्ष उर्फ सोनू मेहता पिता पन्नालाल जी मेहता उम्र 27 साल निवासी 100/02 बियावानी धार रोड पोस्ट आफिस के पास थाना छत्रीपुरा जिला इन्दौर का होना बताया आऱोपी हर्ष उर्फ सोनू मेहता की तलाशी लेने पर उसके बैग मे से एक प्लास्टिक की डिब्बी के अन्दर अफीम जैसा पदार्थ रखा मिला जिसका परीक्षण करने पर उक्त पदार्थ अफीम होना पाया गया, जिसके संबंध में कोई लायसेंस नहीं पाया गया।  आरोपी के कब्जे से लगभग 150 ग्राम अफीम जिसकी अंतराष्ट्रीय बाजार मे 75 हजार रुपये तक की कीमत का जप्त किया गया। आरोपी का कृत्य धारा 8/18 एनडीपीएस एक्ट का पाया जाने से आरोपी के विरुध्द थाना अपराध शाखा जिला इंदौर में अपराध क्रमांक 20/2021 धारा 8/18 स्वापक औषधी और मनप्रभावी अधीनियम (छक्च्ै ।ब्ज् )1985 का प्रकरण पंजीबध्द किया गया ।

गिरफ्तार आरोपी हर्ष उर्फ सोनू मेहता से पूछताछ के दौरान बताया गया था कि वह राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले के चिकारड़ा गांव के 02 व्यक्तियों से लगातार अफीम खरीदता रहा है और इंदौर शहर में उस अफीम को ऊंचे दामों पर बेचता रहा है। आरोपी से उनके संबंध में पूछताछ करने पर उनके नाम सिकंदर उर्फ मोती तथा मोहसीन उर्फ मुंशी बताये, जिनसे मैं अफीम की खरीददारी करता हूँ तथा इंदौर आकर उसे अधिक लाभ कमाने के उद्देश्य से बेचता हूँ। आरोपी से की गई पूछताछ पर प्राप्त जानकारी के आधार पर अपराध में लिप्त अन्य आरोपीयों पर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही हेतु आरोपी हर्ष को न्यायालय से पुलिस रिमांड पर लेकर अपराध में लिप्त अन्य आरोपीयों के संबंध में गहन पूछताछ की गई तथा पूछताछ के बिंदुओ पर काम करते हुए थाना अपराध शाखा पर एक टीम गठीत की गई । टीम को आरोपी द्वारा बताए गए अपराध में लिप्त अन्य व्यक्तियों की धरपकड़ हेतु राजस्थान चित्तौड़गढ़ रवाना किया गया ।

राजस्थान पहुंचने के पश्चात बताए गये नामों और हुलिये के आधार पर तकनीकी मदद लेते हुए क्राईम ब्रांच, इन्दौर की टीम ग्राम चिकारड़ा जिला चित्तौड़गढ़ राजस्थान पहुंचकर आरोपी द्वारा बताये गये व्यक्तियों की तलाश में जुट गई। लागातार अथक प्रयास कर टीम द्वारा संदिग्ध व्यक्तियों के बारे में जानकारी एकत्र की गई जिस पर पाया गया कि उक्त संदिग्ध व्यक्ति आदतन अपराधी है जिनकी आपराधिक प्रवृत्ति बहुत ही खूंखार है जिनकी पूर्व में पुलिस से मुठभेड़ भी हो चुकी है। आरोपियों की आपराधिक प्रवृत्ति को ध्यान में रखते हुए टीम ने बड़ी सूझबूझ से काम कर उक्त आरोपियों को घेराबंदी कर ग्राम चिकारड़ा जिला चित्तौड़गढ़ से पकड़ा, जिनसे प्रारंभिक पूछताछ की गई तो उन्होने अपना नाम 1. सिकंदर अली उर्फ मोती पिता हारून अली, उम्र-35 साल, नि. चिकारड़ा, प्रजापत मोहल्ला, पुलिस चौकी के पीछे, राजस्थान एंव 2. मोहसिन उर्फ मुंशी पिता स्व. मांगु शाह उम्र-28 साल नि.चिकारड़ा जिला चित्तोड़गढ़ राजस्थान बताया तथा उन्होंनें आरोपी हर्ष उर्फ सोनू मेहता को अफीम बेचने की बात को स्वीकार किया ।

राजस्थान से पकड़े गये दोनों व्यक्तियों के बारे में आपराधिक रिकार्ड जुटाने पर पता चला की दोनों आरोपियों पर राजस्थान राज्य के कई जिलों के विभिन्न थानों पर लड़ाई-झगड़े, अवैध हथियार, अवैध वसूली, हत्या का प्रयास, अवैध शराब, बलवा, चोरी, लूट व डकैती के विभिन्न प्रकरण पंजीबद्ध है। उक्त दोनों आरोपी आदतन अपराधी है जो कि नशे की लत के आदि है। आरोपी सिकंदर अली के विरूद्ध अवैध हथियार, अवैध वसूली, हत्या का प्रयास, अवैध शराब, बलवा, लूट व डकैती जैसे 06 अपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध है वहीं आरोपी मोहसिन उर्फ मुंशी के विरूद्ध चोरी व लड़ाई झगड़े बलवा मारपीट के 02 अपराध पंजीबद्ध है। 

उक्त दोनों आरोपियों को थाना अपराध शाखा जिला इंदौर लाया गया तथा थाना अपराध शाखा पर एनडीपीएस एक्ट में विधिवत गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है, जिसमें अन्य बड़े तस्करों के नाम सामने आने की संभावना है ।आरोपी अन्य किन-किन लोगों से माल लिया करते थे तथा किन-किन लोगों को माल सप्लाय किया करते थे इस संबंध मे पुलिस पूछताछ कर रही है तथा अन्य लोगो के नाम सामने आने पर उनके विरुद्ध भी वैधानिक कार्वयाही की जावेगी ।

error: Content is protected !!