Breaking News
.

सोशल मीडिया ग्रुप बनाकर ‘दंगा’ भड़काने की साजिश,  अशांति फैलाने की साजिश के आरोप में पुलिस ने चार आरोपियों को किया गिरफ्तार…

इंदौर। यहां की खजराना थाना पुलिस ने चार ऐसे आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जो सोशल मीडिया  पर एक ग्रुप बनाकर शहर में दंगा भड़काने की साजिश रच रहे थे। पुलिस ने चारों आरोपियों के मोबाइल जब्त किए जिसमें कई ऐसे अहम सुराग मिले है। ये लोग भड़काऊ संदेश बनाकर लोगों को उकसाने का काम करते थे। चारों आरोपी शहर के अलग-अलग इलाकों के रहने वाले हैं। दरअसल, पिछले कुछ समय से इंदौर पुलिस को लगतार खुफिया विभाग से लोकल थ्रेट मिल रहा था। इनपुट था कि शहर में दंगे भड़काने की साजिश रची जा रही है। इसके बाद बीते दिनों एक के बाद एक घटनाएं भी प्रकाश में आई। इंदौर के बाणगंगा थाना इलाके में बीते दिनों चूड़ी बेचने वाले से मारपीट के बाद इस मामले में कई मोड़ आए।

चूड़ी वाले से पिटाई के बाद अचानक रात के वक़्त विभिन्न संगठन से जुड़े लोग कोतवाली थाने पहुंचे थे और जमकर प्रदर्शन किया था। पुलिस को इस भीड़ को नियंत्रित करने में कड़ी मशक्क्त भी करना पड़ी थी। इस दौरान हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा था, हालांकि पुलिस ने भीड़ एकत्रित करने वालों को चिन्हित कर लिया था और उनपर कार्रवाई भी की थी।

कोतवाली थाने में एकजुट हुई भीड़ का विरोध करने और उन पर कार्रवाई की कड़ी मांग करने के लिए कुछ ही दिन बाद एक संगठन से जुड़े लोग बड़ी संख्या में एकत्रित होकर रीगल तिराहे पहुंचे थे और डीआईजी को ज्ञापन सौंपा था। इसी दौरान पुलिस को खुफिया विभाग से इनपुट प्राप्त हुआ था कि शहर की फिजा बिगाड़ने की एक बड़ी साजिश चल रही है। भड़काऊ संदेश कुछ ग्रुप में प्रसारित किए जा रहे है। लिहाजा पुलिस ने लगातार सोशल मीडिया पर सक्रियता बढ़ाई और मॉनिटरिंग तेज कर दी। पुलिस को जानकारी मिली थी कि एक विशेष इलाके का व्हाट्सअप  ग्रुप है, जो लगातार लोगों को भड़काने का काम कर रहा है।

पुलिस ने जब तकनीकी आधार पर तलाश शुरू की तो अहम सुराग हाथ लगे। इस दौरान पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया और उनसे पूछताछ शुरू कर दी। आरोपियों का मोबाइल खंगालने पर इस बात का खुलासा हुआ कि आरोपी गोरेला तकनीकी पर शहर में सिलसिलेवार कई वारदात को अंजाम देना चाहते थे। गोरेल्ला तकनीकी का मतलब एक वक़्त में एक स्थान पर वारदात करना और जब तक पुलिस मौके पर पहुंचे तब तक दूसरे स्थान को चिन्हित कर वारदात कर गायब हो जाना।

एसपी आशुतोष बागरी के मुताबिक खजराना थाना पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है, आरोपी शहर के सौहार्द को बिगाड़ने का प्रयास कर रहे थे, उनके पास से मिले मोबाइल में कई ऐसे संदेश प्राप्त हुए है जो उनके ऑपरेशन से सीधे ताल्लुकात रखते है। हालांकि, वह किस संगठन से संबंध रखते है अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है। उसकी जांच की जा रही है। पड़ताल करने पर आरोपियों के अन्य सदस्यों की पुष्टि होने पर उन्हें भी गिरफ्तार किया जाएगा।

error: Content is protected !!