Breaking News
.

कांग्रेस विधायकों ने अपने ही मंत्री पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप, कहा- स्कूल शिक्षामंत्री ट्रांसफर और पोस्टिंग कराने लेते हैं पैसा…

रायपुर। छत्तीसगढ़ कांग्रेस में आजकल कुछ ठीक नहीं चल रहा है। विधायक अपने ही मंत्री पर भ्रष्टाचारी होने का आरोप लगा रहे है। विधायक बृहस्पत सिंह और संसदीय सचिव चंद्रदेव राय ने स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम पर ट्रांसफर-पोस्टिंग में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। मंत्री से नाराज विधायकों ने अब मंत्री के खिलाफ खुलेआम मोर्चा खोल दिया है। विधायकों ने मंत्री को हटाने की मांग की है। बृहस्पत सिंह, हाल ही में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से विवाद के कारण चर्चा में रहे थे।

 

बृहस्पत सिंह ने आरोप लगाया, स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह मनमानी कर रहे हैं। विधायकों की एक भी बात, एक भी सिफारिश नहीं सुनी जा रही है। जिस बात के लिए मुख्यमंत्री निवास से निर्देशित करा दिया जाता है, उसको भी प्रेमसाय सिंह रोक लेते हैं। उनके पीए और निजी स्टाफ ही सब करते हैं। उनके यहां ट्रांसफर-पोस्टिंग का धंधा चल रहा है। अब पढ़े-लिखे विधायक आ रहे हैं। वे इसे बर्दाश्त नहीं कर पाएंगे। संसदीय सचिव चंद्रदेव राय ने आरोप लगाया, स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेम साय सिंह टेकाम ट्रांसफर में बड़ा खेल कर रहे हैं। मंत्री अपनी मनमानी कर रहे हैं। उनका दावा है 35 से अधिक विधायक मंत्री के खिलाफ हैं।

 

मंत्री से नाराज विधायकों ने बुधवार रात बैठक की। वहां मंत्री को हटाने की मांग उठी। विधायक बृहस्पत सिंह ने बताया, सभी विधायक बहुत नाराज थे। मैंने उन्हें समझाया है कि इस बात को मुख्यमंत्री तक पहुंचाया जाए। वही इसका समाधान करेंगे। सभी लोग मुख्यमंत्री से मिलकर बात करने पर सहमत हो गए हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले विधायकों में से अधिकतर वहीं हैं, जिन्होंने पिछले दिनों दिल्ली में डेरा डाला था। अब वे विभिन्न मुद्दों पर पार्टी के भीतर ही एकजुट हो रहे हैं। यह बात इसलिए अधिक महत्वपूर्ण है कि सरगुजा अंचल के ही डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के करीबी माने जाते हैं।

error: Content is protected !!