Breaking News
.

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने उठाया सवाल, पूछा- क्या इससे संकट खत्म हो पाएगा ….

नई दिल्ली । जी-23 के ग्रुप में शामिल कपिल सिब्ब्ल ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे पर सवाल उठाते हुए पूछा है कि क्या इससे कांग्रेस पर आया संकट खत्म हो जाएगा। सिब्बल ने यह भी पूछा कि क्या कांग्रेस और बीजेपी की ओर से उठाए गए इन कदमों से पार्टी को भविष्य के संकट से बचाया जा सकेगा?

पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद कांग्रेस पार्टी के सामने एक नई मुसीबत खड़ी हो गई है। पार्टी नेताओं का कहना है कि अगले कुछ घटों में पंजाब के लिए नए मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान हो जाएगा। इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने उत्तराखंड, गुजरात और अब पंजाब में हुए नेतृत्व परिवर्तन की ओर से इशारा करते हुए अपनी पार्टी पर सवाल खड़ा किया है।

बता दें कि कपिल सिब्बल उन 23 नेताओं में से एक हैं, जिन्होंने पिछले साल कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर संगठनात्मक सुधार की मांग की थी। कपिल सिब्बल ने बीजेपी शासित राज्य उत्तराखंड और गुजरात का नाम लेते हुए पंजाब का जिक्र भी किया है। सिब्बल ने पूछा है कि कांग्रेस और बीजेपी की ओर से उठाए गए इन कदमों से पार्टी को भविष्य के संकट से बचाया जा सकेगा?

कपिल सिब्बल ने ट्वीट करते हुए कहा ‘सेनापति बदले जा रहे हैं- उत्तराखंड, गुजरात, पंजाब…सदियों पुरानी कहावत: सही समय पर उठाया गया छोटा कदम भविष्य की बड़ी समस्याओं से बचाता है लेकिन क्या यह होगा?’

बता दें कि बीजेपी ने छह महीने के भीतर ही दो मुख्यमंत्रियों को बदल दिया। पहले त्रिवेंद्र रावत की जगह तीरथ सिंह रावत ने मुश्किल से चार महीने में ही इस्तीफा दे दिया। अब पुष्कर सिंध धामी उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री हैं। वहीं, गुजरात में विजय रूपाणी ने राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव से लगभग एक साल पहले सीएम पद से इस्तीफा दे दिया। उनकी जगह अब भूपेंद्र पटेल को मुख्यमंत्री बनाया गया है।

नेतृत्व परिवर्तन को लेकर कांग्रेस बीजेपी पर निशाना ही साध रही थी कि कैप्टन अमरिंदर ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। ऐसे में अब कांग्रेस के सामने नई मुसीबत खड़ी हो गई है। अमरिंदर के इस्तीफे के पीछे नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन के बीच मतभेद सबसे बड़ी वजह मानी जा रही है।

error: Content is protected !!