Breaking News
.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मनीष की पत्नी से कहा- हम जांच करवा रहे हैं, हत्यारों को को छोड़ेंगे नहीं ….

नई दिल्ली। गोरखपुर पुलिस की पिटाई से हुई कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की मौत का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। बुधरात देर रात कानपुर के पुलिस कमिश्नर असीम अरुण समेत कई आला अधिकारी मनीष के घर पहुंचे और परिजनों से आज सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करवाने की बात कही। इसके बाद गुरुवार सुबह 6:45 बजे परिजनों ने मनीष गुप्ता का अंतिम संस्कार कर दिया।

योगी आदित्यनाथ ने मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी और उनके परिवार से मुलाक़ात की और कहा कि किसी भी दोषी को छोड़ेंगे नहीं, हम जाँच करवा रहे हैं, हम आपके दुख में आपके साथ हैं।

मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी ने बताया कि 8 साल पहले वर्ष 2013 में उनकी शादी हुई थी। मनीष रियल इस्टेट का काम करते थे। परिवार में बीमार ससुर के अलावा उनका 4 साल का एक बेटा अभिराज है। सास का पहले ही देहांत हो चुका है। मनीष की तीन बहनें हैं, उनकी शादी हो चुकी है। मीनाक्षी ने बताया कि सोमवार देर रात में फोन पर बात के बाद लगा कि शायद सब कुछ ठीक हो गया होगा, लेकिन मंगलवार सुबह करीब 5 बजे फोन पर पता चला पति अब इस दुनिया में नहीं हैं।

error: Content is protected !!