Breaking News
.

पुरानी पेंशन स्कीम की मांग को मुख्यमंत्री खट्टर ने किया खारिज, कहा- कांग्रेस गुमराह कर रही ..

करनाल। हरियाणा की खट्टर सरकार ने सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजन को बहाल करने की किसी भी योजना को खारिज कर दिया है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को हरियाणा कांग्रेस पर इस तरह के मुद्दों को उठाकर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस इस तरह की मांग पूरी कर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। उन्हें इस सवाल का जवाब देना चाहिए कि हरियाणा में इस पेंशन योजना को किसने खत्म किया है।’ पुरानी पेंशन योजना की कर्मचारियों की मांग को स्वीकार करने के राजस्थान सरकार के फैसले का स्वागत करते हुए हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने मांग की थी कि हरियाणा सरकार भी इसे राज्य में बहाल करे।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि हरियाणा सरकार अपने कर्मचारियों को वेतन समेत सभी सुविधाएं मुहैया करा रही है और हरियाणा में ऐसा कोई मुद्दा नहीं है। यूक्रेन में फंसे हरियाणा के छात्रों पर एक सवाल पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह खुद स्थिति की बहुत बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों के अनुसार सभी छात्रों को वापस लाने का प्रयास किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने करनाल जिले के गांव मुंदरी में बन रहे श्री महर्षि वाल्मीकि संस्कृत विश्वविद्यालय के निर्माण कार्य का भी जायजा लिया। उन्होंने कहा कि इस विश्वविद्यालय की स्थापना न केवल संस्कृत पढ़ने वाले छात्रों के लिए वरदान साबित होगी बल्कि यह विश्वविद्यालय हमारी सांस्कृतिक जड़ों को मजबूत करने में भी अहम भूमिका निभाएगा।

error: Content is protected !!