Breaking News
.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को दिव्यांग शिल्पकार ने लकड़ी पर उकेरे छत्तीसगढ़ के राजगीत की कलाकृति की भेंट की, एक लाख का आर्थिक अनुदान स्वीकृत …

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में बेमेतरा जिले के दिव्यांग काष्ठ शिल्पकार दिलहरण सिन्हा एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती कलिन्द्री सिन्हा ने सौजन्य मुलाकात की। इस अवसर पर उन्होंने मुख्यमंत्री को काष्ठ पर हाथों से उकेर कर बनायी गई छत्तीसगढ़ के राजगीत की कलाकृति भेंट की। इसमें राजगीत के रचयिता डॉ. नरेन्द्र देव वर्मा के हस्ताक्षर को भी उकेरा गया है।

मुख्यमंत्री बघेल ने उनके कला-कौशल की सराहना करते हुए काष्ठ शिल्प के काम को आगे बढ़ाने के लिए अपने स्वेच्छानुदान मद से एक लाख रुपये की राशि स्वीकृत की।

कष्ठ शिल्प कलाकार सिन्हा ने मुख्यमंत्री को बताया कि वे दिव्यांग है और काष्ठ शिल्प ही उनकी आजीविका का एकमात्र साधन है। उन्होंने बताया कि उन्होंने भारत का राष्ट्रगीत, राष्ट्रगान और संविधान की प्रतावना भी लकड़ी पर उकेरी है। सिन्हा ने बताया कि उनकी धर्मपत्नी श्रीमती कलिन्द्री उन्हें शिल्प निर्माण में सहायता करती हैं।

उन्होंने मुख्यमंत्री के समक्ष शासन के सहयोग से अपने इस कला के प्रसार के लिए युवा पीढ़ी एवं अन्य दिव्यांगजनो को प्रशिक्षण देने की भी इच्छा जतायी, जिससे उन्हें भी काष्ठ शिल्प से जुड़कर अपने लिये रोजगार के साधन जुटाने में सहायता मिल सके और वे आर्थिक रूप से सशक्त बन सके।

error: Content is protected !!