Breaking News
.

पिकअप में बांधकर घसीटने का मामला: ‘तालिबानी’सजा देने वालों के मकान पर चली जेसीबी, 3 करोड़ की सरकारी जमीन पर कर रखा था अवैध कब्जा…

नीमच। जिला प्रशासन ने जिले के सिंगोली कांड के मुख्य आरोपियों के अवैध मकानों को चिन्हित कर ध्वस्त कर दिया. यहां आदिवासी कन्हैयालाल भील को पिकअप से बांधकर घसीटकर मौत के घाट उतारा गया था. पुलिस ने ग्राम जेतलिया पहुंचकर आरोपित महेंद्र गुर्जर के मकान को ध्वस्त कर दिया.

नीमच. जिला प्रशासन ने रविवार को सिंगोली कांड के मुख्य आरोपितों के अवैध मकानों को चिन्हित कर ध्वस्त कर दिया है. प्रशासन रविवार को जेसीबी व अन्य संसाधनों के साथ सड़क हादसे के विवाद में दलित कन्हैयालाल भील को पिकअप से बांधकर घसीटने व मौत के घाट उतारने वाले मुख्य आरोपितों के ग्राम जेतलिया पहुंचा. जहां आरोपित महेंद्र गुर्जर के मकान को ध्वस्त किया गया. कलेक्टर व एसपी ने मृतक के परिजनों से मुलाकात कर हरसंभव मदद का आश्वासन भी दिया है.

पुलिस अधीक्षक सूरज कुमार वर्मा ने बताया कि सिंगोली में जो दुखद घटनाक्रम हुआ है उसमें अभी तक 8 आरोपितों को नामजद किया गया है. इनमें से 5 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है. इन सभी आरोपितों की अवैध संपति को चिन्हित कर ध्वस्त किया जा रहा है. रविवार को पुलिस व प्रशासन के अमले ने मौके पर पहुंचकर आरोपितों के मकानों को ध्वस्त किया है. सख्त से सख्त कार्रवाई की जा रही है. घटना में शामिल शेष आरोपितों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा. इस पूरे मामले को फास्ट ट्रेक कोर्ट में ट्रायल करवाकर दोषियों को सख्त से सख्त सजा दिलवाई जाएगी.

गौरतलब है कि जिले के नीमच-सिंगोली रोड स्थित अथवा कलां फंटे के पास 26 अगस्त को सुबह करीब 6 बजे आरोपी छीतरमल गुर्जर ने कान्हा को बाइक से टक्कर मार दी थी. इस दौरान छीतरमल की बाइक पर लदा दूध नीचे गिर गया था. टक्कर लगने पर कान्हा ने पत्थर उठा लिया. इस पर छीतरमल ने अपने रिश्तेदारों को बुला लिया और कान्हा के साथ मारपीट की. इसी दौरान सड़क से एक पिकअप गाड़ी निकली, इसमें रस्सी भी बंधी थी. आरोपितों ने कान्हा के पैर बांधकर पिकअप से उसे 100 मीटर से ज्यादा दूर तक घसीटा. इसके बाद कान्हा की मौत हो गई थी.

पुलिस ने इस पूरे घटनाक्रम को संज्ञान लेते हुए 8 लोगों के विरुद्ध 304, 302 व एसटीएससी एक्ट में कार्रवाई की है. आरोपित छीतरमल पिता जयराम गुर्जर उम्र 32 निवासी ग्राम पाटन, महेंद्र पिता रामचंद्र गुर्जर उम्र 40 निवासी जेतलिया, गोपाल पिता लालू गुर्जर उम्र 40 निवासी पाटन, लोकेश पिता नारायण बलाई उम्र 21 निवासी सिंगोली, लक्ष्मण पिता जयराम गुर्जर निवासी ग्राम पाटन को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि आरोपित अमरचंद पिता गोपी गुर्जर निवासी ग्राम जेतलिया, धीरज धाकड़ निवासी ग्राम चल्दू व सत्तू डॉक्टर निवासी ग्राम पाटन अब तक पुलिस गिरफ्त से दूर हैं.

error: Content is protected !!