Breaking News
.

कैमरों पर ब्लैक स्प्रे मारा…और महज 7 मिनट में लाखों की नकदी सहित कार में लादकर ले गए एटीएम ….

नई दिल्ली। हरियाणा के पलवल में हथियारबंद नकाबपोश बदमाश शहर के सबसे पॉश इलाके न्यू कॉलोनी में 25 लाख 33 हजार रुपयों से भरे एक एटीएम को महज सात मिनट में उखाड़कर ले गए। एटीएम शॉप के ऊपर किराये पर रहने वाले एक युवक ने जब शोर मचाया तो बदमाशों ने हथियार लहराते हुए उसे जान से मारने की धमकी दी। कैंप थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। घटना शनिवार देर रात की है।

सीसीटीवी फुटेज में दिख रहे छह नकाबपोश बदमाश : पुलिस को अभी तक आरोपियों का सुराग नहीं मिला है। डीएसपी हैडक्वार्टर अनिल कुमार ने बताया कि पीएनबी शाखा मैनेजर ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि न्यू कॉलोनी क्षेत्र में बैंक का एटीएम लगा था। एटीएम पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। सीसीटीवी फुटेज के अनुसार, शनिवार देर रात 2 बजकर 55 मिनट पर स्कॉर्पियों कार में सवार होकर छह नकाबपोश बदमाश एटीएम पर आए। आते ही उन्होंने सीसीटीवी कैमरे पर काला स्प्रे कर दिया।

उन्होंने रस्से का एक शिरा एटीएम में तथा दूसरा सिरा रस्सा स्कॉर्पियों में बांधकर उखाड़ लिया और स्कॉर्पियों में लादकर ले गए। बदमाश एटीएम को 3 बजकर दो मिनट पर लेकर फरार हो गए। मौके पर पहुंचे एसपी मुकेश मल्होत्रा और डीएसपी अनिल कुमार को एक युवक ने बताया कि वह एटीएम शॉप के ऊपर वाले हिस्से में किराये पर रहता है। रात करीब 3 बजे के आसपास शोर सुनकर नींद खुली तो कुछ लोगों को एटीएम उखाड़ते देखा।

हवा में हथियार लहराकर हुए फरार : उस युवक ने जब एटीएम उखाड़ रहे बदमाशों से कहा कि वह पुलिस को सूचना दे रहा है तो उन्होंने हवा में हथियार लहराते हुए जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद डर के मारे वह अंदर चला गया और करीब 3-4 मिनट बाद 112 नंबर पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस जब कुछ देर बाद मौके पर पहुंची तो वहां पर सन्नाटा पसरा हुआ था।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मामलों को गंभीरता से देखते हुए आरोपियों की धरपकड़ के लिए तुरंत ही पांच टीम बनाई गई है। इस टीम के पुलिसकर्मी मामले में सीसीटीवी फुटेज को खंगालने में लगे हुए हैं।

सूचना के तीन मिनट बाद पुलिस मौके पर पहुंची तब तक आरोपी एटीएम को उखाड़ कर ले जा चुके थे। एटीएम में 25 लाख 33 हजार 500 रुपये भरे थे। एसपी मुकेश मल्होत्रा के मुताबिक, एटीएम उखाड़ने वाले पुलिस नाकाबंदी से पहले फरार हो गए। आरोपियों को पकड़ने के लिए पांच पुलिस टीमों का गठन किया गया है। अभी तक आरोपियों का सुराग नहीं मिला है और पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर मामले की जांच में लगी है। पुलिस का कहना है कि लूटपाट की अंजान देने वाले बदमाशों का पता करने के लिए आसपास के लोगों से भी मामले में गहनता से पूछताछ की जा रही है।

error: Content is protected !!