Breaking News
.

पुलिस हिरासत में हत्या मामले में चारों ओर से घिरी भाजपा की योगी सरकार, भड़के राहुल-प्रियंका गांधी ने 10 सदस्यीय दल भेजा कासगंज …

नई दिल्ली । कासगंज में पुलिस हिरासत में अल्ताफ की हत्या की घटना को उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बेहद गंभीर बताते हुए राहुल गांधी ने कहा कि क्या उत्तर प्रदेश में मानवाधिकार नाम की कोई चीज बची है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी ने कासगंज में हिरासत में हत्या की घटना को लेकर योगी सरकार पर हमला करते हुए गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस के 10 वरिष्ठ नेताओं के दल को विस्तृत जानकारी लेने को कासगंज भेजा है। वहीं, प्रियंका गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस हिरासत में मौत के मामले में देश में सबसे ऊपर है। भाजपा राज में कानून व्यवस्था पूरी तरह चौपट है। यहां कोई भी सुरक्षित नहीं है।

प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में महिलाओं की असुरक्षा को लेकर भी योगी सरकार को घेरा और कहा कि सचिवालय हो, सड़क हो या और कोई स्थान उप्र में महिला असुरक्षित है। सरकार के ‘महिला सुरक्षा’ के दावे की असलियत यही है। उत्तर प्रदेश की एक बहन को यौन शौषण की शिकायत पर कार्रवाई न होने के चलते अपने साथ घटी घटना का वीडियो वायरल करना पड़ा। कितना धैर्य और लड़ने की शक्ति होगी उसमें उप्र की मेरी बहनों, एकजुट हो कर अपनी लड़ाई इसी तरह खुद लड़ो। तुम लड़की हो, लड़ सकती हो। देश की एक-एक महिला तुम्हारे साथ खड़ी है।

इस बीच प्रदेश कांगेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कासगंज में अल्ताफ की पुलिस हिरासत में हुई हत्या की जानकारी लेने के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के नेतृत्व में प्रदेश कांग्रेस के वरष्ठि नेताओं का दस सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल कासगंज भेजा है। पूर्व केंद्रीय मंत्री के नेतृत्व में प्रदेश के वरष्ठि नेताओं का दस सदस्यीय दल घटना का वस्तिृत जायजा लेने के लिए प्रदेश नेतृत्व ने कासगंज भेजा है।

error: Content is protected !!