Breaking News

भाजपाइयों की गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों के साथ जमकर भिड़ंत, पथराव भी किया, पुलिस संरक्षण में गड़बड़ी फैलाने का आरोप …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । गाजीपुर बार्डर पर भाजपाइयों और किसानों के बीच बुधवार को भिड़ंत हो गई। बताया जा रहा है कि भाजपा कार्यकर्ता नवनियुक्त प्रदेश मंत्री अमित का स्‍वागत करने वहां पहुंचे थे लेकिन उसी दौरान बवाल शुरू हो गया। भाजपाइयों ने किसानों पर तोड़फोड़, हंगामे के बाद पथराव भी किया है। उधर किसान नेता राकेश टिकैत ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर किसानों के मंच पर कब्‍जा करने का आरोप लगाया और कहा कि पिछले तीन दिन से यहां पुलिस के संरक्षण में गड़बड़ी फैलाने की कोशिश की जा रही थी। 

टिकैत ने यहां तक कहा कि कोई मंच पर कब्जा करने की कोशिश करेगा तो बक्कल उतार देंगे। उनको आना है तो बीजेपी छोड़ कर आ जायें। उन्‍होंने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ता पिछले तीन दिन से आ रहे हैं। पुलिस उन्हें संरक्षण दे रही है। पुलिस गुंडई छोड़ दे। बीजेपी की वर्कर न बने।

बताया जा रहा है कि किसानों और भाजपा समर्थकों के बीच बवाल के बाद हालात इतने खराब हो गए कि भाजपा नेता की गाड़ी को निकालने के लिए पुलिस को काफी मशक्‍कत करनी पड़ी। किसान नेता राकेश टिकैत ने इस पूरी स्थिति के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं और पुलिस को जिम्‍मेदार ठहराते हुए कई गंभीर आरोप लगाए। उन्‍होंने कहा कि मंच सड़क पर है लेकिन इसका मतलब यह तो नहीं कि कोई भी मंच पर आ जाएगा। यदि मंच पर आना है तो भाजपा छोड़कर आएं।

उन्‍होंने कहा कि यहां यह दिखाने की कोशिश की गई कि हमने गाजीपुर के मंच पर भाजपा का झंडा फहरा दिया। यह बिल्‍कुल गलत बात है। ऐसे लोगों के बक्‍कल उधेड़ देंगे। ये लोग फिर प्रदेश में कहीं नज़र नहीं आएंगे।

इस बारे में भारतीय किसान यूनियन ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने आज सुनियोजित ढंग से गाजीपुर बार्डर पर फ्लाईवे के बीच मंच के पास भारी संख्‍या में जुटान की। उन्‍होंने अपने नेता के स्‍वागत के बहाने वहां ढोल बजाकर किसान आंदोलन के खिलाफ नारे लगाने शुरू कर दिए। किसानों ने मना किया तो लाठी-डंडे से हमला बोल दिया। यूनियन ने भाजपा पर आंदोलन को तोड़ने की साजिश का आरोप लगाया। कहा हि आज गाजीपुर बार्डर पर की गई हिंसा इसका सबूत है। यूनियन ने किसानों से अपील की कि किसी के बहकावे में आए बगैर आंदोलन को बचाए रखें।

उधर, भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं और आंदोलनकारियों पर तोड़फोड़ और हंगामे का आरोप लगाते हुए भाजपा के कार्यकर्ताओं ने एसएसपी ऑफिस पर प्रदर्शन किया। उन्‍होंने किसानों पर यूपी गेट पर एक भाजपा नेता की गाड़ी तोड़ने का आरोप लगाया।

प्रत्‍यक्षदर्शियों ने बताया कि प्रदेश मंत्री अमित के स्‍वागत के लिए यूपी गेट पर आए भाजपा कार्यकर्ताओं की गाड़ियों का काफिला जब एक्सप्रेस-वे फ्लाईओवर पर दिल्ली से गाजियाबाद वाली लेन पर किसानों के मंच के सामने पहुंचा तो वहां किसानों और भाजपाइयों में नोकझोंक हो गई। भाजपाइयों ने उन्हें अपशब्द कहे। उनके खिलाफ नारेबाजी की, जिससे हालात बिगड़े। इसके बाद मारपीट और गाड़ियों में तोड़फोड़ हुई।

error: Content is protected !!