Breaking News
.

हड़ताल के तीसरे दिन एसईसीएल कुसमुण्डा में बड़ा हंगामा: श्रमिक नेताओं ने एपीएम जैन हटाओ खदान बचाओ के लगाए नारे

कोरबा (गेंदलाल शुक्ल) । कमर्शियल माइनिंग विरोधी हड़ताल के तीसरे दिन एसईसीएल कुसमुण्डा परियोजना में बड़ा हंगामा देखने को मिला। श्रमिक संगठनों द्वारा हजारी के समय प्रोजेक्ट कार्यालय के गेट के सामने खड़े रहे, काफी समय बाद देखा गया कि एक-दो अधिकारी के अलावा कोई कर्मचारी हाजरी लगाने नहीं आये।

फिर उन्होंने सहायक प्रबंधक कार्मिक श्रीमती अंकिता राठौर से जानकरी चाही कि कितने लोगों की हाजरी लगी है, तो वे टाल मटोल करने लगे। जिस पर सभी मजदूर यूनियन के नेता प्रबंधन कार्यालय के गेट पर ही धरने पर बैठ गए। उनका आरोप था कि प्रबंधन द्वारा बिना किसी श्रमिक के आये ही दर्जनों हाजरी लगा ली गयी। अब उनकी मांग थी कि हाजरी रजिस्टर दिखाया जाए। कार्मिक प्रबंधन अजय कुमार भी मौके पर पँहुचे और नेताओं को समझाइश देते हुए गेट से हटने को कहा परन्तु श्रमिक नेता नहीं माने।

श्रमिक नेताओं ने एपीएम जैन हटाओ खदान बचाओ के नारे भी लगाए। सभी का एक स्वर में कहना था कि ये फाल्स हाजरी का खेल एरिया पर्सनल मैनेजर के कहने पर ही हुआ है। ताकि उच्च अधिकारियों तक ये संदेश जाए कि ऑफिस में हड़ताल का कोई असर नहीं दिखा। मौके पर सीआईएसएफ व एसईसीएल के सुरक्षा गार्ड व कुसमुण्डा पुलिस मौके पर उपस्थित थे।

error: Content is protected !!