छत्तीसगढ़रायपुर

छत्तीसगढ़ भाजपा संगठन में बड़ा बदलाव, बिलासपुर सांसद अरुण साव होंगे नए प्रदेश अध्यक्ष, आदिवासी नेता विष्णुदेव साय की छुट्टी …

रायपुर। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बिलासपुर सांसद अरुण साव को छत्तीसगढ़ भाजपा का नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मंगलवार को इसकी घोषणा कर दी। भाजपा के महासचिव अरुण सिंह ने इसका आदेश जारी किया है। अरुण साव बिलासपुर संसदीय क्षेत्र से अभी लोकसभा के सांसद हैं। साव की अगुवाई में ही भारतीय जनता पार्टी 2023 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी। छत्तीसगढ़ भाजपा संगठन में बदलाव को लेकर लंबे समय से चर्चा चल रही थी।

अब तक प्रदेश भाजपा अध्यक्ष की जिम्मेदारी आदिवासी नेता विष्णुदेव साय संभाल रहे थे। नगरीय निकाय चुनाव और उपचुनाव में भाजपा की लगातार हार के बाद यह तय हो गया था कि जल्द ही प्रदेश संगठन में बड़ा बदलाव होगा। छत्तीसगढ़ में 2023 में विधानसभा चुनाव होना है। इस लिहाज से इसे बड़ा बदलाव माना जा रहा है। भाजपा के नए अध्यक्ष के पास संगठन को बूथ स्तर तक मजबूत करने और गुटबाजी से निपटना बड़ी चुनौती होगी। छत्तीसगढ़ में फिलहाल कांग्रेस की सरकार है। भाजपा सत्ता में वापसी को लेकर लगातार मेहनत कर रही है। अरुण साव ने 2019 में मोदी लहर में बिलासपुर से चुनाव जीता है।

सांसद अरुण साव साहू समाज से आते हैं। अरुण साव का जन्म 25 नवंबर 1968 को मुंगेली के लोहड़िया गांव में हुआ। स्कूली शिक्षा मुंगेली में हुई। बीकॉम एसएनजी कालेज मुंगेली और LLB बिलासपुर से किया। 1998 में दशरंगपुर से जनपद पंचायत सदस्य के लिए चुनाव लड़ा। 1996 से मुंगेली और 2001 में उच्च न्यायालय बिलासपुर में वकालत किया। 2004 में छत्तीसगढ़ शासन के पैनल लॉयर, 2005 से 2007 तक उप शासकीय अधिवक्ता, 2008 से 2013 तक शासकीय अधिवक्ता और 2013 से 2018 तक उप महाधिवक्ता छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के पद पर कार्यरत रहे। अभी बिलासपुर से सांसद हैं।

Related Articles

Back to top button