Breaking News
.

कांग्रेस कमेटी की बैठकों में नहीं बुलाने पर भड़के भूपेश बघेल, पुनिया ने कहा-ढाई-ढाई साल के फार्मूले पर कोई चर्चा नहीं होगी…

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक में आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस बात से सख्त नाराज थे कि उन्हें प्रदेश कांग्रेस कमेटी की होने वाली बैठकों की सूचना नहीं दी जाती। एक पदाधिकारी के सवाल-जवाब पर उन्होंने यहां तक कहा कि जब कांग्रेस की बैठक में मैं नहीं आ रहा हूं तब यह कैसे मालूम होगा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं और आम लोगों की शिकायतें क्या हैं। मुख्यमंत्री बघेल ने आने के पूर्व एक पदाधिकारी ने प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया से यह कहा कि ढाई-ढाई साल का फार्मूला क्या है। इसे स्पष्ट करना चाहिए। हमें भी लोगों को जवाब देना पड़ रहा है। तब पुनिया ने कहा कि यह मेरे और आपके स्तर का मामला नहीं है। न इस पर चर्चा करेंगे और न ही आज के एजेंडे का यह विषय है।

बताया जा रहा है कि बिना एजेंडे की इस बैठक को प्रदेश कार्यकारिणी में हुई फेरबदल के बाद परिचायत्मक बैठक कहा गया था। मगर आज ऐसा कुछ नहीं हुआ। जो पदाधिकारी अब की बार संगठन में आए हैं। वे नए नवेले नहीं है। लगभग सभी को संगठन की पुरानी जिम्मेदारी की समझ है। अभी जो सरकार के निगम मंडलों में पदाधिकारी बनकर सत्ता के भागीदार बनें हैं, उनको जरूर संगठन में पद पहली बार मिला था।

बैठक में एक पदाधिकारी ने अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से कहा कि-हम अपनी बात आप तक कैसे पहुंचाए। हमारे पास तो कोई जरिया नहीं है। आपके पास तो सरकार का पूरा तंत्र है और सबकी खबर आप रखते हैं। इस बात से भी मुख्यमंत्री बघेल नाराज नजर आए।

बैठक के बाद प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने दिल्ली दौड़ लगाने वाले कांग्रेस विधायक का खुला समर्थन करते हुए कहा कि- विधायकों को न हम नोटिस दे रहे हैं और न ही उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इस बात को दो कदम और आगे बढ़ाते हुए उन्होंने यहां तक कह दिया कि विधायकों द्वारा दिए गए बयान का जनता में कोई फर्क नहीं पड़ता।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मौजूदगी में महिला बाल विकास और खाद्य विभाग को लेकर जमकर पदाधिकारियों ने शिकायतें की। कहा कि यहां जो गड़बड़ी की जा रही है उस पर आखिर सुनवाई कहां होगी। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि मैं प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष रहा हूं। जब हमारी सरकार नहीं थी तब बैठकों में अनिवार्य रूप से नेता प्रतिपक्ष को बुलाया जाता था। अब जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है, ऐसे में प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठकों से मुझे दूर रखा जा रहा है। उन्होंने यहां तक कहा कि पुनिया जी मैं आपसे इसका जवाब चाहता हूं।

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में हुई इस बैठक में प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, चंदन यादव, प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम सहित प्रदेश पदाधिकारी और कार्यकारिणी सदस्य उपस्थित थे।

error: Content is protected !!