Breaking News
.

मां दुर्गा की उपासना करने से पहले कर लें जरूरी काम, तभी पूरी होगी आपकी हर मनोकामना…

नई दिल्ली। शारदीय नवरात्रि की शुरूआत आज हो रही है। इन दिनों में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है। नवरात्रि का व्रत आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रथम तिथि से नवमी तिथि के नौ दिन मां दुर्गा को समर्पित होता है. नवरात्रि के नौ दिनों के व्रत का विशेष महत्व होता है. कुछ लोग पहले और आखिरी दिन व्रत रखते हैं जबकि कई लोग पूरे 9 दिन व्रत रखते हैं. कुछ लोग फलाहार करते हैं तो कई लोग बिना कुछ खाए- पीए नवरात्रि का व्रत रखते है.

 

इन नौ दिनों में माता के भक्तों को कई तरह के नियमों का पालन करना होता है. आइए जानते हैं व्रत के दौरान किन नियमों का ध्यान रखना चाहिए.

 

  1. नवरात्रि के व्रत में पूरी तरह से सात्विक भोजन करें. खाने में लहसुन और प्याज का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए. इसके अलावा किसी के लिए भी बुरा नहीं बोलना चाहिए.

 

  1. मां दुर्गा के आगमन से पहले ही घर की साफ-सफाई कर लें. मान्यता है कि जिस घर में गंदगी होती है वहां माता की कृपा नहीं करसती. ऐसे में नवरात्रि में घर की साफ-सफाई करना बहुत जरूरी होता है. घर के पूजा स्थल को अच्छे से साफ कर गंगाजल का छिड़काव करें. इसके बाद माता की पूजा करें और भोग लगाएं.

 

  1. नवरात्रि के 9 दिन दिन अलग रंग के कपड़े पहने जाते हैं. इस दौरान रंगों का खास महत्व होता है.

 

  1. घर में पहले से ही व्रत का सामान रख लें. इसके लिए कट्टू का आटा, समारी के चावल, सिंघाड़े का आटा, साबूदाना, सेंधा नमक, फल, मेवे, मखाना आदि मंगा लें.
  2. माता की चौकी की स्थापना करने से पहले वहां स्वास्तिक बना लें. इसके अलावा कलश स्थापान की पूजा सामग्री को भी एक जगह एकत्रित करके रख लें ताकि पूजा के समय किसी तरह की कोई परेशानी न हों.

 

  1. नवरात्रि के दौरान मांस-मछली का सेवन न करें. नवरात्रि से पहले ही आप बाल, दाढ़ी कटवा लें. नवरात्रि में ये सभी चीजें करना अशुभ माना जाता है. इसके अलावा नाखून काटना भी वर्जित माना गया है.
error: Content is protected !!