Breaking News
.

कांग्रेस के अध्यक्ष चुनाव से पहले BJP चुन लेगी हर पन्ने का प्रमुख, विस्तार के लिए पीएम मोदी ने बनाए ये 3 टारगेट …

नई दिल्ली । एक तरफ जहां बीजेपी हर पन्ने का प्रमुख चुनने की प्रक्रिया शुरू कर चुकी है तो दूसरी तरफ कांग्रेस 2019 के बाद से स्थायी अध्यक्ष नहीं चुन पाई है और संगठन चुनाव उसने अगले साल सितंबर-अक्टूब तक टाल दिया है। इससे पहले कि कांग्रेस पार्टी के एक अध्यक्ष का चुनाव करेगी, बीजेपी लाखों पन्ना प्रमुखों की नियुक्ति से 2024 लोकसभा चुनाव के लिए अहम पड़ाव हासिल कर चुकी होगी। 

बीजेपी ने चुनाव राज्यों और कमजोर संगठनात्मक ढांचे वाले इलाकों में विस्तार के लिए 3 लक्ष्य तय किए हैं। बीजेपी 25 दिसंबर तक देशभर के सभी 104,000 पोलिंग स्टेशन पर बूथ कमिटी का गठन करने का लक्ष्य बनाई है। 6 अप्रैल 2022 तक सभी राज्यों में पन्ना प्रमुख नियुक्त कर दिए जाएंगे और मई 2022 तक भारत के सभी पोलिंग बूथों पर पीएम के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के प्रसारण सुनिश्चित किया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने रविवार को कहा कि राजधानी दिल्ली में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में ये लक्ष्य तय किए गए हैं। उन्होंने कहा, ”गुजरात में पार्टी ने एक प्रयोग किया, जहां बूथ कमिटी के अलावा पेज कमिटी का भी गठन किया गया। 25 दिसंबर तक सभी बूथ कमिटी तैयार हो जाएगी, अब तक 85 फीसदी का गठन हो चुका है। अब हमारा लक्ष्य सभी पोलिंग स्टेशन पर पन्ना प्रमुख नियुक्त करने का है।”

बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने कहा कि उनकी पार्टी लोगों से संपर्क बढ़ाने और चुनावी अभियान के लिए संभावनाएं बढ़ाने के लिए इन संगठनात्मक इकाइयों पर निर्भर करती है। पीएम मोदी के मासिक रेडियो कार्यक्रम को संस्थागत रूप से सभी बूथों पर प्रसारण से पीएम मोदी के संदेशों को जनता तक पहुंचाने की कोशिश है। प्रधान ने कहा, ”पीएम मोदी ‘मन की बात’ के जरिए लोगों से सीधे बात करते हैं और मई 2022 तक सभी बूथों पर इसकी व्यवस्था की जाएगी।”

उन्होंने कहा कि पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पूर्व अध्यक्ष अमित शाह की उस बात को दोहराया कि बीजेपी का सर्वश्रेष्ठ आना अभी बाकी है। प्रधान ने कहा, ”2014 में शाह ने नए लक्ष्य तय किए थे। जिनमें से कई हासिल हो चुके हैं, जैसे असम, त्रिपुरा और पूर्वोत्तर में कई राज्यों में जीत। नड्डा ने कहा कि अभी उत्कर्ष आना बाकी है।” गौरतलब है कि अमित शाह ने भी पश्चिम बंगाल और केरल जैसे राज्यों में सरकार बनाने का लक्ष्य रखते हुए कहा था कि बीजेपी का विस्तार अभी बाकी है।

error: Content is protected !!