Breaking News
.

गिरफ्तारी से पहले पार्थ चटर्जी ने अपनी करीबी महिला अर्पिता मुखर्जी के लिए बुक की थीं दो लग्जरी कारें ….

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में करोड़ों के कैश के साथ ही अर्पिता और पार्थ के करीबी संबंधों की चर्चा जोरों पर है। यही वजह से कि डूबते को तिनके का सहारा ही काफी है। यहां पर पार्थ अपनी करीबी महिला अर्पिता को बचाने के लिए आखिरी समय तक कोशिश करते नजर आ रहे हैं। जहां वे अभी तक अपनी करीबी महिला पर किसी प्रकार का दोषारोपण नहीं किए हैं तो वहीं रोज नए नए खुलासे हो रहे हैं। आखिर क्या मतलब है इन दोनों के करीबी रिश्तों का। हालांकि इस पर अभी कोई खुलकर कुछ नहीं कह रहा है।

पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी की गिरफ्तारी के बाद से ही उनकी जिंदगी को लेकर कई खुलासे हो रहे हैं। अब ईडी को पता चला है कि गिरफ्तारी से पार्थ ने अपनी करीबी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी  लिए महंगी कारें खरीदी थीं। वे उनका इस्तेमाल घूमने फिरने के लिए किया करते थे। ये दोनों ही कारें उनके साउथ कोलकाता वाले फ्लैट की पार्किंग से गायब हैं।

ईडी के अधिकारियों ने बताया, ‘ उनके पास दो कार थीं जिनमें एक मर्सिडीज और दूसरी मिनी कूपर थी। ये दोनों कारें अर्पिता मुखर्जी के पास ही रहती थीं। इनका इस्तेमाल पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी घूमने-फिरने के लिए किया करते थे। अर्पिता मुखर्जी पार्टियों में जाने के लिए इनका इस्तेमाल करती थी।’ रिपोर्ट्स के मुताबिक पार्थ चटर्जी ने ही ये दोनों कारें अर्पिता को तोहफे में दी थी। इसके अलावा कई अन्य वाहन खरीदने में भी पार्थ ने अर्पिता की मदद की थी।

ईडी का कहना है कि पार्थ चटर्जी ने अर्पिता के लिए दो और महंगी और लग्जरी कारें बुक की थीं। वह इन कारों का अडवांस पेमेंट भी कर चुके थे। कार के लिए ट्रांजैक्शन दो शेल कंपनियों के जरिए किया गया था। इन कारों की डिलिवरी होने से पहले ही दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। अब ईडी उन चार वाहनों की तलाश कर रही है  जो कि अर्पिता मुखर्जी के डायमंड सिटी कॉम्प्लेक्स की पार्किंग से गायब हैं।

बता दें कि शिक्षक भर्ती घोटाले के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार किया गया है। जांच एजेंसी अब तक 50 करोड़ रुपये से ज्यादा की नकदी बरामद कर चुकी है। नकदी अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट से ही मिली है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पार्थ को गुरुवार को मंत्रिपद से हटाने के साथ ही पार्टी से भी निलंबित कर दिया है।

error: Content is protected !!