Breaking News
.

प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल के मौजूदगी में अर्चना पोर्ते, शंकर कंवर व ध्यान सिंह पोर्त भाजपा छोड़ कांग्रेस में हुए शामिल …

मरवाही। बीते विधानसभा चुनाव में भाजपा की प्रत्याशी रहीं और वर्तमान में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य अर्चना पोर्ते, जिला पंचायत बिलासपुर में उपाध्यक्ष रहे शंकर सिंह कंवर व 2008 में भाजपा के प्रत्याशी रहे ध्यान सिंह पोर्ते के साथ प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली।

मरवाही विधानसभा चुनाव के लिए अभी नामांकन दाखिले का काम चल रहा है। पिछले एक माह से पूरे विधानसभा के सक्रिय लोगों को कांग्रेस प्रवेश कराने का काम किया जा रहा है। जोगी कांग्रेस के लगभग सभी प्रमुख पदाधिकारी कांग्रेस प्रवेश कर चुके हैं। भाजपा के बड़े पदाधिकारी पार्टी छोड़ेंगे इस बात की संभावना कम थी। वर्ष 2008 में भाजपा की टिकट पर ध्यान सिंह पोर्ते चुनाव लड़े और वे लंबे अंतराल से चुनाव हार गए। बीते विधानसभा चुनाव में अर्चना पोर्ते को भाजपाइयों के विरोध के बाद भी टिकट दिया गया। टिकट इस उम्मीद से दिया गया कि अर्चना पोर्ते स्वर्गीय भंवर सिंह पोर्ते की पुत्री है। मरवाही क्षेत्र में पोर्ते परिवार का जनाधार होगा। मगर विधानसभा चुनाव के परिणाम से पता चला कि अर्चना पोर्ते को भी उतने ही वोट मिले जितना पूर्व पराजित प्रत्याशियों ने प्राप्त किया था। इन सबके बावजूद अभी हाल ही में भाजपा संगठन ने अर्चना पोर्ते के प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य के रूप में शामिल किया।

आज जिले के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल के मौजूदगी में अर्चना पोर्ते अपने पति शंकर सिंह कंवर के साथ कांग्रेस की सदस्यता ली। जय सिंह अग्रवाल ने उन्हें मिठाई खिलाकर कांग्रेस प्रवेश पर स्वागत किया। पोर्ते परिवार मूलत: कांग्रेसी ही है। स्वर्गीय भंवर सिंह पोर्ते लंबे समय तक कांग्रेस से विधायक और मंत्री रहे। कांग्रेस में आने से विधानसभा उप चुनाव में कितना लाभ होगा यह आने वाला समय ही बताएगा।

 

error: Content is protected !!