Breaking News

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में एक बार फिर ED के सामने पेश नहीं हुए अनिल देशमुख, वृद्धावस्था का दिया हवाला …

मुंबई। महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख कोविड-19 और अपनी वृद्धावस्था का हवाला देते हुए मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले के सिलसिले में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के समक्ष पेश नहीं हुए। उन्होंने केंद्रीय एजेंसी को उपर्युक्त लगने वाले किसी भी दिन ऑनलाइन बातचीत करने के लिए आग्रह किया।

ईडी ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के 71 वर्षीय नेता से मंगलवार को सुबह 11 बजे कार्यालय में पेश होने के लिए कहा था जब वह शनिवार को जांच अधिकारी के समक्ष पेश नहीं हुए थे। देशमुख ने कई करोड़ के कथित रिश्वतखोरी सह वसूली रैकेट से जुड़े धनशोधन के मामले में शनिवार को पेशी की नयी तारीख मांगी थी। इस मामले के चलते उन्हें इस साल अप्रैल में गृह मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

मंगलवार को, देशमुख ने नोटिसों का अनुपालन करते हुए अपने वकील इंदरपाल सिंह को अधिकृत प्रतिनिधि बनाकर एजेंसी को एक पत्र सौंपा। पत्र में, देशमुख ने प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट (ईडी की प्राथमिकी) की एक प्रति और ईडी से अन्य दस्तावेजों को उपलब्ध कराने का आग्रह किया था।

error: Content is protected !!