Breaking News
.

प्रापर्टी डीलर के कैशियर आकाश यादव ने ही रची लूट की झूठी कहानी, भतीजे को बुलाकर थमाई रकम और FIR कराने खुद पहुंच गया थाने ….

रायपुर। प्रापर्टी डीलर के कैशियर से 10 लाख रुपये लूट की कहानी झूठी निकली। कैशियर ने ही 10 लाख गबन करने की नीयत से लूट की कहानी गढ़ी थी। पुलिस ने कैशियर को गिरफ्तार कर लिया है और उनके पास से 9 लाख रुपये भी बरामद किए गए हैं। आरोपी ने पुलिस को बताया कि उस पर काफी कर्ज था और उससे छुटकारा पाने के लिए उसने अपने भतीजे के साथ मिलकर यह पूरा प्लान बनाया था। पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस में पूरे मामले का खुलासा किया।

बता दें सोमवार को राजधानी के गंज इलाके में लूट की घटना सामने आई थी। राधाकृष्ण प्रापर्टी डीलर का कैशियर आकाश यादव 10 लाख रुपये लेकर देवेंद्र नगर बैंक जा रहा था। इस दौरान रास्ते में बाइक सवार 3 बदमाश पहुंचे और उससे रुपये लूट कर फरार हो गए। गंज थाना पहुंचकर आकाश ने लूट की प्राथमिकी भी दर्ज कराई थी। पुलिस ने जांच शुरू की। घटना स्थल के आसपास कई सीसीटीवी फुटेज खंगाले, लेकिन बाइक सवार बदमाशों द्वारा लूट के कोई प्रमाण या फुटेज नहीं दिखे। पुलिस को शिकायत दर्ज कराने वाले आकाश यादव पर ही शक हुआ। पुलिस ने आकाश से पूछताछ शुरू की। पहले तो उसने पुलिस को गुमराह किया, लेकिन कड़ाई से पूछताछ करने पर वह टूट गया।

रायपुर एसएसपी प्रशांत कुमार अग्रवाल ने बताया कि आकाश यादव ने खुद की रुपये गबन करने झूठी कहानी गढ़ी थी। आरोपी ने अपनी गलती मान ली है। आरोपी के पास से 9 लाख रुपये की रिकवरी हुई है। पूछताछ में आकाश यादव ने बताया कि वह काफी कर्जे में था और इससे छुटकारा पाने अपने भतीजे के साथ मिलकर यह पूरा प्लान बनाया था। आकाश यादव जहां काम करता था उसका मालिक उस पर भरोसा करता था। सोमवार को भी उसे 10 लाख रुपये बैंक में जमा कराने दिए थे। यहां से निकलने के बाद उसने अपने भतीजे को फोन कर बुलाया और उसे रुपये देकर भेज दिया। आकाश के भतीजे को भी इस अपराध में साथ देने की वजह से पुलिस ने हिरासत में लिया है।

error: Content is protected !!