Breaking News
.

कृषि मंत्री चौबे ने कहा- राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का देवउठनी पर्व से होगा शुभारंभ …

रायपुर। कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा के अनुरूप छत्तीसगढ़ राज्य में राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना का प्रदेशव्यापी शुभारंभ इसी वित्तीय वर्ष में देवउठनी पर्व होगा शुभारंभ। इस योजना के तहत ग्रामीण अंचल के ऐसे परिवारों को 6000 रूपए प्रतिवर्ष दिए जाएंगे, जिनके पास खेती की जमीन नहीं है और वे मनरेगा या कृषि मजदूरी से जुड़े है। धोबी, नाई, लोहार और पुजारी को भी इस योजना का लाभ मिलेगा।

मंत्री चौबे आज छत्तीसगढ़ राज्य के पारंपरिक पर्व हरेली तिहार के अवसर पर बेमेतरा जिले के साजा विकासखंड के ग्राम राखी में 70.86 लाख रूपए की लागत वाले विकास कार्यों के लोकार्पण एवं भूमिपूजन कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। मंत्री चौबे ने कहा कि भूपेश सरकार सही मायने में किसानों, मजदूरों के हितों की रक्षा करने वाली सरकार है। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना के बाद अब मजदूरों के हित के लिए राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना शुरू की जा रही है। यह योजना राज्य में कार्तिक एकादशी देवउठनी पर्व से शुरू होगी। प्रदेश सरकार ने योजना के लिए अनुपूरक बजट में 200 करोड़ रूपए का प्रावधान किया है। इस योजना से राज्य के 12 से 15 लाख भूमिहीन परिवार लाभान्वित होंगे।

कृषि मंत्री चौबे इस मौके पर महिलाओं को स्वावलंबी एवं आत्मनिर्भर बनाने के लिए 20 नग सिलाई मशीन दिये जाने की घोषणा की। उन्होंने कार्यक्रम के दौरान ग्राम देऊरगांव की महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार मिनरल वॉटर को मार्केटिंग के लिए लांच किया और महिलाओं को बधाई और शुभकानाएं दी। मंत्री चौबे ने ग्राम राखी में चारागाह के लिए आरक्षित जमीन का भी मुआयना किया। ग्राम राखी पहुंचने पर मंत्री चौबे का ग्रामीणों ने उनका आत्मीय स्वागत किया। कृषि मंत्री ने ग्राम राखी के गौठान में खेती किसानी के काम आने वाले कृषि यंत्र रांपा, कुदाली, नांगर, गैती की पूजा-अर्चना कर प्रदेश के किसानों के खुशहाली की कामना की।

इस अवसर पर कलेक्टर विलास भोसकर संदीपन ने किसानों एवं ग्रामीणों को हरेली पर्व की बधाई और शुभकानाएं दी। कार्यक्रम में सर्वश्री बंशी पटेल, संतोष वर्मा, जनपद पंचायत उपाध्यक्ष साजा श्रीमती सीमा भुनेश्वर चंद्राकर, सरपंच श्रीमती ईश्वरी चौबे सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी व ग्रामीणजन उपस्थित थे।

error: Content is protected !!