Breaking News
.

अवैध वेंडिंग की रोकथाम जांच अभियान में 22 वेंडरों पर की गई कार्रवाई ….

बिलासपुर । रेलवे प्रशासन द्वारा कोविड-19 की रोकथाम हेतु वर्तमान में चल रही स्पेशल गाड़ियों में यात्रियों को केवल पैकेट बंद खाना (ready to eat) उपलब्ध कराने की अनुमति प्रदान की गई है तथा पेंट्रीकार में खाना बनाने की अनुमति नहीं है।

इसी संदर्भ में मंडल वाणिज्य विभाग द्वारा गाड़ियों के पेंट्रीकार में खाना नहीं बनाने तथा पैकेट बंद खाना (ready to eat) की उपलब्धता की लगातार निगरानी की जा रही है। आज बिलासपुर स्टेशन में सहायक वाणिज्य प्रबन्धक श्री एस.भारतीयन के सफल नेतृत्व में वाणिज्य निरीक्षकों द्वारा गाड़ी संख्या 02280 हावड़ा-पुणे स्पेशल गाड़ी के पेंट्रीकार में औचक निरीक्षण किया गया।

निरीक्षण के दौरान बड़ी संख्या में राशन सामग्री पाई गई। पेंट्रीकार के मैनेजर से इस संबंध में पूछताछ की गई उसने स्वीकार किया कि ये सामग्री खाना बनाने के लिए रखी गई है। इस पर त्वरित कार्रवाई करते हुये बिलासपुर स्टेशन में पूरे राशन सामग्री को उतार कर जब्त किया गया। साथ ही रेलवे नियमानुसार पेंट्रीकार संचालक पर उचित कार्रवाई की जा रही है।

इस दौरान पेंट्रीकार में उपलब्ध पैकेट बंद खाना की स्वच्छता के साथ ही साथ पेंट्रीकार में कार्यरत कर्मचारियों का मेडिकल सर्टिफिकेट, परिचय-पत्र, सफाई व्यवस्था का भी निरीक्षण किया गया। साथ ही अग्निशमन यंत्रों की उपलब्धता तथा वैधता भी जाँची गई।

इसके साथ ही साथ अवैध वेंडिंग की रोकथाम हेतु 8 जुलाई से 15 दिनों का चलाये जा रहे गहन जांच अभियान के तहत अब तक मंडल के विभिन्न प्रमुख स्टेशनों में 22 अवैध वेंडर पकडे गये हैं जिन पर कार्रवाई की गई है। साथ ही सभी केटरिंग संचालकों को बिना प्लेटफार्म परमिट के किसी भी वेंडर को प्लेटफार्म एवं गाडियों में खाद्य सामग्री नहीं बेचे जाने बावत सख्त हिदायतें दी गई है।

error: Content is protected !!