Breaking News
.

टाइगर रिजर्व में एक बाघ मिला मृत, आपसी संघर्ष में मौत की आशंका, वन विभाग ने ग्रामीणों को किया अलर्ट …

भोपाल । मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व (बीटीआर) के मुख्य इलाके में एक बाघ मृत पाया गया है। इलाके की तलाशी करने के बाद, घटनास्थल के 500 मीटर के दायरे में एक बाघ, एक बाघिन और दो बाघ शावकों की मौजूदगी के साक्ष्य मिले हैं। वन विभाग के एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। बीटीआर के उप निदेशक लवित भारती ने एक बयान में कहा कि बीटीआर के पटौर मुख्य क्षेत्र के तहत बमोर गांव के पास रविवार शाम गश्त के दौरान वनकर्मियों को चार से पांच साल के एक बाघ का शव मिला।

अधिकारी ने बताया कि संदेह है कि एक अन्य बाघ के साथ लड़ाई में इस बाघ की मौत हो गई। बयान में कहा गया कि श्वान दल की मदद से इलाके की तलाशी करने के बाद, घटनास्थल के 500 मीटर के दायरे में एक बाघ, एक बाघिन और दो बाघ शावकों की मौजूदगी के साक्ष्य मिले हैं। इसके चलते क्षेत्र में ग्रामीणों को बाहर न निकलने की सलाह दी गई है। उन्होंने कहा कि मृत बाघ के शव परीक्षण के बाद, राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) के दिशानिर्देशों के तहत शव को दफनाया गया और इसके विसरा को जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजा गया है।

अखिल भारतीय बाघ अनुमान रिपोर्ट 2018 के अनुसार, मध्य प्रदेश में देश के अन्य राज्यों की तुलना में सबसे अधिक 526 बाघ हैं। मध्य प्रदेश में कान्हा, बांधवगढ़, पेंच, सतपुड़ा और पन्ना सहित कई बाघ अभयारण्य हैं। पिछले हफ्ते एक सीनियर फॉरेस्ट अफसर ने कहा था कि पिछले कुछ साल में नए इलाकों की खोज में 30 से अधिक टाइगर पन्ना टाइगर रिजर्व से चले गए थे। हालांकि उन्होंने इसे एक नैचुरल प्रॉसेस बताया।

error: Content is protected !!