Breaking News
.

विधवा भाभी पर बुरी नजर रखने वाला डबल मर्डर का आरोपी फौजी गिरफ्तार, दिवाली की रात घटना को दिया था अंजाम …

नई दिल्ली। गुरुग्राम से सटे हरियाणा के रेवाड़ी जिले की थाना रोहड़ाई पुलिस ने दीपावली के दिन घरेलू विवाद में लाइसेंसी पिस्तौल से अपनी विधवा भाभी और भतीजे की गोली मारकर दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाले गांव हांसावास गांव निवासी रिटायर्ड फौजी विक्रम सिंह को आखिरकार गिरफ्तार कर लिया है। उसने अपने 11 वर्षीय भतीजे को भी गोली मारकर घायल कर दिया था। वारदात के बाद से आरोपी फरार था।

जानकारी के अनुसार, आरोपी के भाई पूर्व सैनिक अजय सिंह ने थाना रोहड़ाई में अपने भाई विक्रम सिंह के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया था। उसने पुलिस को बताया कि वे तीन भाई हैं। एक भाई विजय की पांच साल पहले मौत हो चुकी है। उसने आरोप लगाया कि असम राइफल्स से रिटायर्ड विक्रम अपनी विधवा भाभी संतोष पर बुरी नजर रखता था और शराब पीकर 45 वर्षीय भाभी व 16 वर्षीय भतीजे शिवम के साथ मारपीट करता था।

दीपावली के दिन भी शराब के नशे में उसने भाभी और भतीजे के साथ मामूली झगड़े को लेकर अपनी लाइसेंसी पिस्तौल से उन पर फायरिंग कर दी थी। गोली लगने से मां और बेटे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई थी।

उसने बताया कि बीच-बचाव के लिए आई उसकी पत्नी रेनू व 11 वर्षीय बेटे अनुज को भी उसने गोली मार दी। इस वारदात में अनुज गंभीर रूप से घायल हो गया है। हत्याकांड को अंजाम देकर विक्रम मौके से फरार हो गया था।

error: Content is protected !!