Breaking News

नौ वर्षों से यहां रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है फुशिया का …

फुशिया ओपनिंग सेरेमनी, थिएटर कार्यशाला एवं क्ले मॉडलिंग कार्यशाला

जयपुर। एम डी गर्ल्स स्कूल के वर्चुअल वार्षिक अन्त : सदन प्रतियोगिता “फूशिया” के रंगारंग उद्घाटन सत्र का आगाज़ हुआ । कार्यक्रम की मुख्य अतिथि प्रधानाचार्य महोदया श्रीमती अर्चना मनकोटिया ने बताया कि कैसे 9 साल पहले स्कूल की छात्राओ ने कुछ हटके करने की सोची और वार्षिक प्रतियोगिता फूशिया का आरंभ किया। उन्होंने बताया कि फूशिया एक फूल और एक रंग भी है जो कि रचनात्मकता एवं आत्मविश्वास को दर्शाता है।

समारोह में छात्राओ ने नृत्य एवं गीत प्रस्तुत किए।

मां सरस्वती की वंदना और विद्यालय की  संस्थापक महारानी गायत्री देवी को भी याद किया गया।

तीन दिन तक चलने वाली इन  प्रतियोगिताओ में संस्कृत श्लोक, वाद विवाद, पेंटिंग, कॉमेडी, ,नृत्य, गायन  आदि  शुमार है।

इसी श्रृंखला में जयपुर स्माइल फाउंडेशन और गिव इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से अपने फंडरेजर अभियान, फूशिया फंडराइज़र@एम डी के तहत 16 जुन 2021 पर दो दिन तक चलने वाली थिएटर कार्यशाल का आज पहला दिन रहा। कार्यशाला की रिसोर्स पर्सन  श्रीमती प्रीति दुबे थी, जिन्होंने स्कूल के अभियान के लिए अपना समर्थन दिया । उन्होंने अपने थिएटर इंडस्ट्री के अनुभव और ज्ञान को नजर में रखते हुए छात्राओ को गतिविधियों के द्वारा अभिनय और  आख्यान कि कला सिखाई।

अगले दिन कि कार्यशाला के लिए उन्होंने प्रतिभागियों को गृहकार्य के रूप में अभिनय का अभ्यास करने को कहा।अगली वर्कशॉप क्ले मॉडलिंग की थी जिसकी रिसोर्स पर्सन मिस अपेक्षा माथुर थी जो कि प्राउड पॉटर्स क्लब की सदस्य है। उन्होंने विद्यार्थियों को होममेड क्ले बनाना सिखाया। साथ ही उन्होंने उसी क्ले से डायनासोर बनाना सिखाया और छात्राओ को क्ले मॉडलिंग पर कई सारी टिप्स और ट्रिक्स सिखाई। उन्होंने बताया कि क्ले मॉडलिंग थेराप्यूटिक है और दिमाग को शांत रखने में मदद करती है।

प्रतिभागियों ने सत्र का आनंद लिया और साझा किए गए कौशल के लिए आभार व्यक्त किया।  कुल मिलाकर यह एक शानदार सत्र साबित हुआ।  स्कूल की इस पहल की सभी उपस्थित लोगों और प्रतिभागियों ने सराहना की। अंत में प्रधानाचार्य ने सभी संसाधन व्यक्तियों और प्रतिभागियों को धन्यवाद देकर सत्र समाप्त किया।

error: Content is protected !!