Breaking News
.

गार्ड की आंखों में मिर्ची झोंक बाल सुधार गृह से भागे 6 नाबालिग, घेराबंदी कर 3 को हिरासत में लिया गया …

उज्जैन। कम उम्र में अपराध को अंजाम देने वाले नाबालिगों को बाल संप्रेक्षण गृह में रखा जाता है लेकिन शुक्रवार की रात मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में स्थित बाल सुधार गृह से 6 नाबालिग फरार हो गए। बताया जा रहा है कि गार्ड की आंखों में मिर्ची झोंक कर यह सभी भागने में कामयाब हुए थे। बाद में इनमें से 3 को घेराबंदी कर हिरासत में लिया गया है तीन की तलाश अभी भी की जा रही है।

नागझिरी थाना क्षेत्र के ग्राम मालनवासा में बाल संप्रेक्षण गृह बना हुआ है जहां बाल अपचारियों को न्यायालय के आदेश पर रखा जाता है। यहां पिछले कुछ महीनों से देवास के रहने वाले  नाबालिगों को रखा गया था। बताया जा रहा है कि इनमें से कुछ पर हत्या और हत्या के प्रयास के मामले दर्ज थे।

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि शुक्रवार की रात रात 11:00 बजे के लगभग सुरक्षा गार्ड शैलेंद्र उर्फ बाबू दादा 58 वर्ष गेट पर तैनात था। तभी देवास के रहने वाले 6 नाबालिग अपने कमरों से बाहर निकल कर आए और उन्होंने गार्ड की आंखों में मिर्ची झोंक दी। इतना ही नहीं नाबालिगों ने मेन गेट की चाबी छीन ली और मारपीट करने के बाद गार्ड को अधीक्षक के रूम में बंद कर बाइक लेकर भाग निकले। मामले की जानकारी सुरक्षा गार्ड द्वारा संप्रेक्षण गृह के अधिकारियों को दी गई।

पुलिस ने रात में ही घेराबंदी की और करीब 3 से 4 घंटे बाद 3 नाबालिगों को हिरासत में ले लिया। 3 गार्ड की बाइक लेकर भागे हैं। जिनकी तलाश के लिए क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरे देखे जा रहा हैं। बताया जा रहा है कि एक टीम देवास भी रवाना की गई है। संभावना जताई गई है कि रात तक तीनों को भी हिरासत में ले लिया जाएगा।

बाल संप्रेक्षण गृह से नाबालिगों के भागने का यह पहला मामला नहीं है इससे पहले भी अपराधों को अंजाम देने वाले नाबालिग दीवार कूदकर भागने में सफल रहे हैं। यह पहला मौका है जब गार्ड की आंखों में मिर्ची झोंक कर भागने की योजना बनाई गई है।

error: Content is protected !!