Breaking News
.

केंद्रीय मंत्री से बदसलूकी, कलेक्टर, एसपी सहित 4 अफसर निपटे…

भोपाल। प्रदेश के ग्वालियर-चंबल संभाग में बाढ़ के हालातों के बाद श्योपुर में बाढ़ राहत कार्यों में लापरवाही के आरोप के चलते सरकार ने रविवार को वहां के कलेक्टर, एसपी, मुख्य नगर पालिका अधिकारी और डिप्टी कलेक्टर को हटा दिया है। उनकी जगह नए अधिकारियों के नियुक्ति के आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। इन तबादलों को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ एक दिन पहले हुई घटना से जोड़कर देखा जा रहा है।

कलेक्टर राकेश श्रीवास्तव को मंत्रालय और एसपी संपत उपाध्याय को पुलिस मुख्यालय में पदस्थ किया गया है। ग्वालियर नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा को श्योपुर कलेक्टर और एआईजी (महिला अपराध) अनुराग सुगानिया को श्योपुर का एसपी एवं ग्वालियर अपर कलेक्टर त्रिभुवन सिंह को श्योपुर का अपर कलेक्टर बनाया गया है। ज्ञात हो कि एक दिन पहले स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर श्योपुर गए थे। वहां उन्हें स्थानीय जनता के विरोध का सामना करना पड़ा था। वहां कुछ लोगों ने उनकी गाड़ी के साथ भी धक्का-मुक्की की थी। लोगों ने तोमर और सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की थी। इससे सरकार स्थानीय अफसरों से नाराज हो गई थी। श्योपुर कलेक्टर राकेश श्रीवास्तव को मंत्रालय में उप सचिव बनाया गया है।

इसी तरह एसपी संपत उपाध्याय को हटाकर एआईजी मुख्यालय एवं सीएमओ श्योपुरकलां मिनी अग्रवाल को हटाकर सहायक आयुक्न नगर निगम ग्वालियर पदस्थ किया गया है। जबकि, अपर कलेक्टर रूपेश उपाध्याय को उप सचिव पूल जीएडी पदस्थ किया गया है। दूसरी ओर मुख्यमंत्री ने राहत के तौर पर आठों जिलों में 50-50 किलो गेहूं देने को कहा था, सभी जिलों में इसकी आपूर्ति शुरू कर दी गई है। इसके अलावा सभी तरह की राहत आदि की व्यवस्थाएं शुरू कर दी गई हैं।

error: Content is protected !!