Breaking News
.

तेज म्यूजिक बजाने के आरोप में डीजे ग्रुप के 4 सदस्य गिरफ्तार, पुलिस ने साउंड बॉक्स से लेकर पिकअप तक किया जब्त …

नोएडा। यूपी सरकार द्वारा तेज संगीत की जांच के निर्देशों का पालन करते हुए, गौतमबुद्ध नगर में पुलिस ने अप्रैल में कार्रवाई शुरू की थी। तब 602 मंदिरों और 265 मस्जिदों सहित लगभग 900 धार्मिक स्थलों को नोटिस दिए गए थे। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने करीब दो दर्जन डिस्को जॉकी (डीजे) के उपकरण भी जब्त किए हैं जो नियमों का उल्लंघन करते हुए पाए गए थे।

नोएडा पुलिस ने एक डीजे समूह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनपर एक निजी समारोह के दौरान देर रात को तेज आवाज में म्यूजिक बजाने का आरोप है। पुलिस ने बताया कि होशियारपुर गांव के बारात घर में एक कार्यक्रम के दौरान बीती रात करीब साढ़े बारह बजे आरोपी तेज आवाज में संगीत बजा रहे थे। पुलिस के प्रवक्ता ने कहा, ‘डीजे ग्रुप ग्रेटर नोएडा से आया था। गिरफ्तार लोगों की पहचान अनुज कुमार, अमित कुमार, कपिल शर्मा और चांद के तौर पर हुई है। ये सभी बिसरख इलाके के निवासी हैं।’

अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने उनके 10 साउंड बॉक्स, तीन एम्पलीफायर, छह डीजे लाइट, एक जनरेटर, एक साउंड मिक्सर डिवाइस और एक पिकअप ट्रक भी जब्त किया है, जिनका इस्तेमाल समारोह के दौरान किया गया था। आरोपियों के खिलाफ खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 188 (लोक सेवक द्वारा विधिवत आदेश की अवज्ञा), 268 (जनता को परेशान करना) और 291 (सार्वजनिक तौर पर लोगों को परेशान करना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

वायु गुणवत्ता मानकों के अनुसार, औद्योगिक क्षेत्रों में दिन के समय 75 डेसिबल ध्वनि सीमा की इजाजत है जबकि वाणिज्यिक क्षेत्रों में यह सीमा 65 डीबी, आवासीय क्षेत्रों में 55 डीबी और शांत क्षेत्रों में 50 डीबी है। वहीं रात के समय औद्योगिक क्षेत्रों में 70 डेसिबल तक की ध्वनि सीमा की इजाजत है, जबकि वाणिज्यिक क्षेत्रों में यह 55 डीबी, आवासीय क्षेत्रों में 45 डीबी और शांत क्षेत्रों में 40 डीबी है।

error: Content is protected !!